ऑस्कर विनर The Elephant Whisperers फेम कपल ने निर्माताओं को भेजा नोटिस।

Spread the love

The Elephant Whisperers

ऑस्कर जीतने वाली डॉक्युमेंट्री फिल्म ( The Elephant Whisperers ) में नजर आए बोम्मन और बेली ने अब इसके निर्माताओं को लीगल नोटिस भेजा दिया है। बोम्मन और बेली का आरोप है कि डॉक्यूमेंट्री फिल्म के डायरेक्टर कार्तिकी गोंसाल्विस ने उन्हें आर्थिक सहायता और बेली की पोती की आगे की पढ़ाई में सहायता करने का वादा किया था।
अलबत्ता उपर्युक्त तौर पर अब कार्तिकी गोंसाल्विस बोम्मन और बेली को डॉक्यूमेंट्री फिल्म के प्रॉफिट का भारी हिस्सा देने से भी इंकार कर रही है। कार्तिकी गोंसाल्विस अब बोम्मन और बेली का फोन भी नहीं उठा रही है।

The Elephant Whisperers
Image Source : Wikimedia

बोम्मन और बेली ने डॉक्यूमेंट्री फिल्म के डायरेक्टर कार्तिकी गोंसाल्विस को नोटिस भेजकर की है पूरे 2 करोड़ों रुपए की मांग। इस परिस्थिति में बोम्मन और बेली ने डॉक्यूमेंट्री फिल्म की डायरेक्टर कार्तिकी गोंसाल्विस को नोटिस भेजकर पूरे 2 करोड़ रूपए की मांग कर ली है। वहीं दूसरी तरफ डॉक्यूमेंट्री फिल्म की डायरेक्टर कार्तिकी गोंसाल्विस ने स्टेटमेंट जारी करते हुए कहा है कि उन्होंने जितना पे करने का वादा किया था वो उतना पे कर चुकी है वो अब और पैसे नहीं देंगी।
इस मामले में बोम्मन और बेली ने अपने पुराने जानकार, चेन्नई स्थित वकील और सामाजिक कार्यकर्ता प्रवीण राज से सहायता ली थी। जिन्होंने उन दोनों की चेन्नई की एक लॉ फार्म से जानकारी करवाई थी।

डॉक्यूमेंट्री फिल्म The Elephant Whisperers के निर्माताओ ने बोम्मेन और बेली से घर और गाड़ी देने का वादा किया था।
पीटीआई को मिली लीगल नोटिस की कॉपी के अनुसार बोम्मन और बेली ने दावा किया है कि निर्माताओ ने उन्हें घर,गाड़ी, एवं आर्थिक सहायता देने का वादा किया था। निर्माताओं ने कहा था कि इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म The Elephant Whisperers से जो भी प्रॉफिट होगा उसका कुछ हिस्सा वो बोम्मन और बेली दोनों को भी देंगे।

निर्माताओं के खाते में गए है पैसे सारे। इस लीगल नोटिस में यह भी बताया गया है कि बोम्मन ओर बेली को फेमस सेलेब्स, स्पोर्ट्स पर्सनेलिटीज,और पॉलिटिशन के सामने डॉक्यूमेंट्री फिल्म के प्रोजेक्ट के (रीयल हीरोज़) के तौर पर दिखाया गया था। इससे निर्माताओं को पब्लिसिटी मिली और अपने काम के लिए पहचान बनाने के लिए सहायता भी मिल गई।
लेकिन बोम्मन और बेली को उनके इस काम के लिए कोई आर्थिक सहायता नहीं मिली। दूसरी तरफ तमिलनाडु राज्य के मुख्यमंत्री और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से जो आर्थिक लाभ मिला वो भी डॉक्यूमेंट्री फिल्म निर्माताओं ने अपने पास ही रख लिया था।

बोम्मन ओर बेली को 4 दिन पहले ही मिला है नोटिस का जवाब।
इस मामले पर बोम्मन और बेली दोनो ने ही कुछ भी कहने से मना करते हुए कहा है कि किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए उनके वकील से संपर्क किया जाए। वही बोम्मन और बेली के एडवोकेट मोहम्मद मंसूर के अनुसार,डॉक्यूमेंट्री फिल्म निर्माताओं ने 4 दिन पहले ही इस लीगल नोटिस का जवाब भेजा है।
लीगल नोटिस के जवाब में डॉक्यूमेंट्री फिल्म की डायरेक्टर कार्तिकी गोंसालविस ने किसी भी तरह की आर्थिक सहायता करने से साफ इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा है कि वो पहले ही बोम्मन और बेली को उनके हिस्से का पूरा पैसा दे चुकी है।
The Elephant Whisperers डॉक्यूमेंट्री फिल्म में निर्माताओं ने बोम्मन और बेली का हाथियों के साथ यूनीक तरह का बॉन्ड और उनके संरक्षण के लिए किए जा रहे प्रयासों को डॉक्यूमेंट्री फिल्म में बड़े ही अच्छे से दर्शाया गया है। बोम्मन और बेली दोनों ही हाथियों को अपने बच्चों की तरह पालते हैं। और उनकी अच्छे से देख रेख करते हैं। The Elephant Whisperers डॉक्यूमेंट्री फिल्म ने इसी साल 2023 में बेस्ट डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट फिल्म कैटगरी में ऑस्कर अवार्ड जीता था। यह अवार्ड भारत देश में बहुत सालों बाद किसी भी फिल्म में ने जीता था।


Spread the love

Leave a comment