Burj Khalifa! पढ़िए बुर्ज खलीफा के बारे में वो सारी दिलचस्प बातें जो आप नहीं जानते और आपको जानना चाहिए।

Spread the love

Burj Khalifa! : Interesting things about Burj Khalifa which you did not know and you should know!

जी हां दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आप सभी लोग पढ़िए Burj Khalifa के बारे में वो सारी दिलचस्प बातें जो आप नहीं जानते और आपको जानना चाहिए। यूएई के सबसे धनी और मशहूर शहर दुबई के बारे में तो आप सभी जानते ही हैं। लेकिन क्या आप दुबई में स्थित आसमान को छूती हुई दुनिया की सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा के बारे में वो सारी दिलचस्प बातें जानते हैं जो आपको जानना चाहिए या आपके लिए जानना जरूरी है।

दुबई में बनी हुई आसमान को छूती हुई दुनिया की सबसे बड़ी इमारत बुर्ज खलीफा के बारे में तो आप सब ने बहुत सुना पड़ा और बहुत सी विडियोज में देखा होगा। लेकिन आज हम इस आर्टिकल की माध्यम से आप सभी को दुबई की सबसे ऊंची इमारत बुर्ज खलीफा के बारे में वो सारी दिलचस्प बातें बताएंगे जो आपको जानना चाहिए।

Burj Khalifa
Image Source : Pexels

आसमान से बातें करती बुर्ज खलीफा के बनने से पहले इसके बारे में कोई सपने में भी सोच नहीं सकता था कि कोई इमारत इतनी ऊंचाई के साथ आसमान को छूती हुई रहेगी। बुर्ज खलीफा को बनाने में करोड़ों रुपयों का खर्चा आया था यह रकम इतनी बड़ी थी कि आप सपनों में भी इतनी बड़ी रकम नहीं सुनी होगी।बुर्ज खलीफा की इमारत बहुत ही भव्य और आलीशान है। इसके इंटीरियर पार्ट को बनाने के लिए 24 कैरेट गोल्ड का इस्तेमाल किया गया है।

बुर्ज खलीफा बनने में करीब 6 साल से भी ज्यादा का समय लगा था। (It took more than 6 years to become Burj Khalifa ) :

बुर्ज खलीफा बनने में करीब 6 साल से भी ज्यादा का समय लगा था। बुर्ज खलीफा को बनाने के लिए रोजाना करीब 12000 मजदूरों को रोज बिना छुट्टी किए लगातार काम करना पड़ा था। बुर्ज खलीफा को बनाने का काम सन 2004 में शुरू हुआ था जिसको अक्टूबर 2009 में पूरा कर दिया गया था। 4 जनवरी 2010 की तारीख को बुर्ज खलीफा को ऑफीशियली ओपन कर दिया गया था। इसको बने हुए और खुले हुए करीब 13 साल से भी ज्यादा हो चुके हैं।

बुर्ज खलीफा है दुनिया की सबसे ऊंची इमारत।(Burj Khalifa is the tallest building in the world) :

बुर्ज खलीफा दुनिया की सबसे ऊंची इमारत है और इसकी सबसे पहली पहचान इसकी ऊंचाई ही है। बुर्ज खलीफा की ऊंचाई 2716.5 फीट यानी 828 मीटर के करीब है। बुर्ज खलीफा की ऊंचाई पेरिस में स्थित एफिल टावर से भी तीन गुना से भी ज्यादा अधिक है। बुर्ज खलीफा बनने के बाद दुनिया के कई और देशों में भी इसी तरह की ऊंची ऊंची इमारतों को बनाया गया था मगर कोई भी इमारत आज तक बुर्ज खलीफा जितनी विशाल संरचना का मुकाबला नहीं कर पाई है।

बुर्ज खलीफा के नाम कई वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज़ है।(The world record of Burj Khalifa’s name is recorded) :

दुनिया की सबसे ऊंची इमारत बुर्ज खलीफा के नाम कई वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। इसमें मुख्य तौर पर 7 वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज़ है। जैसे की दुनिया की सबसे ऊंची इमारत का होना, दुनिया के सबसे ऊंची लिफ्ट का होना, और सबसे ज्यादा फ्लोर का होना, जैसे रिकॉर्ड इसमें शामिल है।

बुर्ज खलीफा के सभी खिड़कियों को साफ करने में लगता है 3 महीने तक का समय।(It takes up to 3 months to clean all the windows of Burj Khalifa) :

बुर्ज खलीफा का बाहरी भाग पूरा कांच की खिड़कियों द्वारा ढका हुआ है। जिनकी संख्या करीब 26000 है। किसी भी बिल्डिंग में गिलास पैनल बिल्डिंग को धूप, धूल, गर्मी, बारिश, जैसी चीजों से बचने के लिए बनाए और लगाए जाते हैं। लेकिन हम आपको अगर यह बताएं की बुर्ज खलीफा में लगी यह सभी 26000 कांच की खिड़कियों को साफ करने में लगभग 3 महीने तक का समय लग जाता है। तब आपका क्या कहना होगा? शायद आप यह सब पढ़कर खुद हैरान रह गए होंगे। लेकिन यह बात बिल्कुल सच है की बुर्ज खलीफा में लगी इन 26000 कांच की खिड़कियों को साफ करने में करीब 3 महीने तक का समय लग जाता है।

बुर्ज खलीफा को इतनी दूर से भी देखा जा सकता है। (Burj Khalifa can be seen even from a distance ) :

यह तो एक जाहिर सी बात है कि अगर बिल्डिंग की ऊंचाई इतनी ज्यादा है तो इसे दूर से भी देखा जा सकता है। बुर्ज खलीफा 95 किलोमीटर दूर से भी साफ-साफ दिखाईं देती है। बुर्ज खलीफा की एक और सबसे ज्यादा दिलचस्प बात यह भी है कि जब बुर्ज खलीफा बनकर तैयार हो गई थी तो इसकी ओपनिंग से पहले इसका नाम बुर्ज दुबई और खलीफा टावर था।

बुर्ज खलीफा में इस्तेमाल की गई कंक्रीट का वजन हाथियों के जितना है।(The concrete used in Burj Khalifa weighs as much as an elephant ) :

बुर्ज खलीफा को बनाने में ज्यादातर अल्युमिनियम और कंक्रीट का उपयोग किया गया था। इसके लिए करीब पांच A380 एयरक्राफ्ट के वजन के बराबर का एलमुनियम और करीबन एक लाख हाथियों के वजन के बराबर का कंक्रीट का इस्तेमाल बुर्ज खलीफा को बनाने में किया गया है।

बुर्ज खलीफा को बनाने में कितना खर्चा हुआ था?(how much did it cost to build burj khalifa?) :

दुबई की सबसे ऊंची और मशहूर इमारत बुर्ज खलीफा को बनाने में करीबन 1.5 बिलीयन डॉलर यानी 12000 करोड रुपए का खर्चा हुआ था।लेकिन कहीं एक्सपर्ट और लोगों का यह भी मानना है कि यह आंकड़े इससे भी कहीं ज्यादा थे।

बुर्ज खलीफा में कितने रूम और फ्लोर है?(How many rooms and floors are there in Burj Khalifa) :

हम आपको बताते हैं कि बुर्ज खलीफा में कितने रूम और फ्लोर हैं। बुर्ज खलीफा की इमारत में कुल 163 फ्लोर, है। जिसमें 58 लिफ्टस है, 2957 पार्किंग स्पेस है ,304 हॉटेल्स है, 37 ऑफिस फ्लोर है, और 900 के करीब अपार्टमेंट है।

बुर्ज खलीफा की इमारत में क्या है सबसे ज्यादा खास?(What is the most special in the building of Burj Khalifa?) :

बुर्ज खलीफा की इमारत की लंबाई लगभग 828 मीटर है। जोकि दुबई शहर के आसमान में बादलों को टच करती है। इसको बनाते वक्त ही इमारत में ऐसी खास सुविधाओं को सम्मिलित किया गया था। जिससे कि यह प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान से अपने आप को बचा सके। जानकारी के लिए हम आपको बता देते हैं कि बुर्ज खलीफा की इमारत 7.0 की तीव्रता वाले भूकंप के तीव्र झटके भी आराम से सेह सकती है। इसके साथ ही बुर्ज खलीफा को इसके आसपास की इमारत के साथ में जोड़ा गया है। ताकि अलर्ट करने का ऑनलाइन सिस्टम सही तरीके से कम कर सके।

बुर्ज खलीफा के Y आकार का होना इसकी भूकंप से बचने में मदद करता है।(The Y shape of Burj Khalifa helps it to avoid earthquakes in) :

बुर्ज खलीफा इमारत का आकार Y यानी कि तीपाई के जैसा है। जो इसे स्थिर और मजबूत खड़े रहने के लिए इसकी मदद करता है। बुर्ज खलीफा इमारत का यह खास डिजाइन इसे दुबई शहर की तेज हवाओं से भी बचा कर रखता है। और प्रतिरोध से भी सेफ्टी करता है। इसके अलावा बुर्ज खलीफा की ज्यादा सेफ्टी के लिए इसकी सीढ़ियों पर कंक्रीट का उपयोग किया गया है। साथ ही बुर्ज खलीफा इमारत के अंदर आग से बचने के लिए बिल्कुल खास तरह की सुविधाओं के इंतजाम किए गए हैं।

बुर्ज खलीफा में है दुनिया की सबसे तेज लिफ्ट का सिस्टम।(Burj Khalifa has the world’s fastest lift system) :

बुर्ज खलीफा की इमारत में दुनिया की सबसे तेज और सबसे ऊंची लिफ्ट का सिस्टम है। इसमें कुल 58 लिफ्ट्स है। इनकी गति लगभग 10 मीटर प्रति सेकंड होती है। यह बहुत ही तेज काम करती हैं।

बुर्ज खलीफा में एंट्री लेने के लिए कितने पैसे लगते हैं?(How much does it cost to enter Burj Khalifa in Hindi) :

बुर्ज खलीफा की इमारत में एंट्री लेने के लिए ₹3060 रूपए लगते हैं जो कि 124 वे फ्लोर पर जाने तक का टिकट होता है। और इसके ऊपर 124 से 148 वे फ्लोर पर जाने के लिए 8890 रूपए लगते है। और बुर्ज खलीफा के टॉप फ्लोर पर बैठकर कॉफी पीने के लिए ₹15280 लगते हैं।

*15 अगस्त 2023 यानी भारत के 77 वे स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बुर्ज खलीफा पर यूएई गवर्नमेंट के द्वारा भारत देश के स्वतंत्रता दिवस को मनाया गया था और भारतीय ध्वज तिरंगे को और भारत देश को बुर्ज खलीफा पर ग्रैफिक्स की मदद से ट्रिब्यूट दिया गया था। यह दृश्य काफी भव्य और आलीशान थे। बहुत से भारतीय दुबई में रहते हैं। उन सब के लिए और हम सब भारतीयों के लिए यह पल काफी गौरवशाली था। इस चीज की वीडियोस सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है।

FAQ>

Q.1 बुर्ज खलीफा क्या है?What is Burj Khalifa?
Ans. बुर्ज खलीफा दुनिया की सबसे ऊंची बिल्डिंग है जो कि UAE के दुबई शहर में बनी हुई है।

Q.2 बुर्ज खलीफा के असली मालिक कौन है?Who is the real owner of Burj Khalifa?
Ans. बुर्ज खलीफा के असली मालिक एमार प्रॉपर्टीज (पीजेएससी) है।

Q.3 बुर्ज खलीफा की सबसे ऊपरी मंजिलो पर क्या क्या है?What’s on the top floors of Burj Khalifa?
Ans. बुर्ज खलीफा का सबसे ऊपरी मंजिल एलिवेटर का एक्सेस स्तर है। यह और ऊपर के स्तर यांतरिक उपकरण, दूरसंचार उपकरण, और इन्हीं के जैसी अन्य चीजों के इस्तेमाल में आता है।156 से लेकर 159 का फ्लोर दूरसंचार एवं प्रसारण कंपनी की जगह है।155 वा फ्लोर यांत्रिक उपकरणों की जगह है।और 139 से 154 वा फ्लोर ऑफिस है।

कुछ सोर्स बताते हैं कि दुनिया की सबसे ऊंचाई पर स्थित मस्जिद 158 वे फ्लोर पर बुर्ज खलीफा के अंदर स्थित है परंतु यह बात बुर्ज खलीफा के ओरिजिनल लिटरेचर में नहीं है।

<Previous Post


Spread the love
Contents hide
1 Burj Khalifa! : Interesting things about Burj Khalifa which you did not know and you should know!

Leave a comment